'KBC 12' की पहली करोड़पति कंटेस्टेंट नाजिया नसीम ने कहा- 'वो आइकॉनिक पल था जब अमिताभ सर ने कहा कि मुझे आप पर गर्व है'

By  
on  

कौन बनेगा करोड़पति के बुधवार के एपिसोड में 15वें सवाल का जवाब देकर नाजिया नसीम इस सीजन की पहली करोड़पति बन गईं. रांची की नाज़िया नसीम इस खुशी को सेलिब्रेट करने खासतौर पर रांची गई थी, ताकि परिवार के साथ वह एपिसोड देख सकें. नाज़िया ने एक लीडिंग वेबसाइट से बात करते हुए बताया कि  शो में एक करोड़ जीतने के बाद उनका रिएक्शन कैसा था. साथ ही नाजिया ने शो से जु़ड़े अनुभव शेयर किए. 

एक लीडिंग वेबसाइट से बात करते हुए  नाजिया नसीम ने कहा कि, 'सोचा नहीं था ऐसा कुछ हो जाएगा. प्रोमो जब केबीसी का आउट हुआ उसके बाद इतने लोगों के फोन कॉल्स और शुभकामनाएं आनी शुरू हो गयी कि लगा अरे ये तो सच है. अब लग रहा है कि ये एक बड़ी उपलब्धि है. मैं बहुत ही इमोशनल हूं बहुत भाव विभोर हूं सिर्फ मैं ही नहीं मेरा पूरा परिवार क्योंकि यह कुछ ऐसा है जो मेरे ही नहीं पूरे खानदान के उम्मीद के परे है. रांची और भिलाई मेरे दोनों परिवारों को इतने कॉल्स आ रहे हैं. मुझे ऐसे ऐसे लोग मुबारकबाद दे रहे हैं. जिनसे मैंने 10 साल से बात भी नहीं की है. हम भारतीयों की खासियत होती है कि हम अंडर डॉग्स को जीतते हुए बहुत खुश होते हैं. पिछले साल जब सनोज राज जीते थे तो हम सब बहुत खुश हुए थे वह मुझे केबीसी का सबसे बेस्ट एपिसोड लगा था.  जब सर ने 1 करोड़ की घोषणा की, तो मैं वास्तव में भावुक हो गई थी.  मैं सचमुच रो रही थी. यह मेरे लिए एकस्लमडॉग मिलियनेयर पल था'

Recommended Read: KBC 12: कंटेस्टेंट कौशलेंद्र सिंह तोमर ने कहीं पत्नी की प्लास्टिक सर्जरी करवाने की बात, हैरान हुए अमिताभ बच्चन ने दी ये सलाह


नाजिया ने आगे कहा कि, '2000 में जब केबीसी वापस आया था तब से मेरी कोशिश जारी है. मेरी माँ की ये ख्वाइश थी कि मैं केबीसी में जाऊं और हॉट सीट पर बैठूं. इस सीजन आखिर मुझे कॉल आ गया और चीज़ें अपने आप होती चली गयी. सबकुछ एक सपने की तरह लग रहा.'

नाजिया ने आगे कहा कि, 'छोटे शहर में लड़कियों को सपने देखना आसान नहीं होता है. बड़े शहरों में भी लड़कियों को दिक्कतें होती हैं लेकिन छोटे शहर में ज़्यादा होती है. हमें कदम कदम पर सेटबैक मिलता है. मैं अपने निजी अनुभवों से बोल सकती हूं. अभी तो रांची बहुत बदल गया है लड़कियां बहुत अच्छा कर रही हैं लेकिन आज से बीस साल पहले ऐसा नहीं था. मैं हमेशा से सिर्फ शादी करके बच्चे पैदा नहीं करना चाहती है. मैं अपने पैरों पर खड़ी होना चाहती थी लेकिन समाज को इससे दिक्कत थी रिश्तेदारों को भी. बुरा क्या लगता है कि हम लड़कियों के फैसले कोई दूसरा लेता है लेकिन हां सबके विरोध के बावजूद मेरे परिवार ने मुझे सपोर्ट किया तो ही मैं रांची से दिल्ली अपने कैरियर के लिए जा पायी. हमारे समाज में लड़के लड़कियों के अधिकार में बहुत अंतर हैं. मुझे उससे दिक्कत होती है. लड़कियां अपनी ज़िंदगी के फैसले क्यों नहीं कर सकती. मेरी जर्नी बताती है कि हर माता पिता को समाज की परवाह ना करते हुए अपनी बेटियों के सपनों को पूरा करने में उनका सपोर्ट करना चाहिए. मैंने हमेशा सही फैसला लिया ऐसा भी नहीं कई बार असफल भी हुई लेकिन परिवार के सपोर्ट की वजह से मैं फिर उठ खड़ी हुई.'

नाजिया ने अमिताभ बच्चन को लेकर कहा कि, 'अमिताभ सर इतने बड़े कलाकार हैं लेकिन वह एकदम आपसे घुलमिल जाते हैं. वह आपसे आपकी रुचि के अनुसार ही बात करनी है. जो भी बातें वह शो के दौरान करते हैं. वह उनके दिल और दिमाग की उपज होती है. आप उनसे उनकी तारीफ करेंगे तो वह आप की खूबियां बताने लगते हैं. मेरे लिए मेरी ज़िंदगी का सबसे आइकॉनिक मोमेंट वो था जब मिस्टर बच्चन ने मुझे कहा कि नाज़िया मुझे आप पर गर्व है.'
(Source: Indian Express/Instagram)

Recommended

Loading...
Share