ट्विटर पर ट्रेंड हो रहा है #BoycottFilmfareAwards , 'तेरी मिट्टी' को अवॉर्ड न मिलने पर शुरू हुआ विरोध

By  
on  

15 फरवरी को गुवाहाटी (असम) में 65th फिल्मफेयर अवॉर्ड का आयोजन किया गया. इंडस्ट्री से कई सेलेब्रिटीज अवॉर्ड शो अटेंड करने  गुवाहाटी पहुंचे. नॉमिनेट हुई कई फिल्मों को संगीत, निर्देशन, सिनेमेटोग्राफी के लिए के लिए फिल्मफेयर के अवॉर्ड से सम्मानित किया गया.  

सोशल मीडिया पर अवॉर्ड शो का जमकर विरोध हो रहा है. रणवीर सिंह और आलिया भट्ट की फिल्म 'गली बॉय' ने 13 अवॉर्ड्स जीते है और अक्षय कुमार की फिल्म 'केसरी' को भी अवॉर्ड नहीं मिले. बता दें, बेस्ट लिरिसिस्ट कैटेगरी में 'कबीर सिंह' के गाने 'तुझे कितना चाहने लगे' गाने के लिए मिथुन, 'बेख्याली' सॉन्ग के लिए इरशाद कामिल 'अपना टाइम आएगा' गाने के लिए डिवाइन और अंकुर तिवारी और 'तेरी मिट्टी' गाने के लिए मनोज मुंतश‍िर को नॉमिनेट किया गया था. 'अपना टाइम आएगा' के लिए डिवाइन और अंकुर तिवारी को बेस्ट लिरिसिस्ट के खिताब से नवाजा गया. 

एक यूजर ने ट्विटर पर लिखा, फिल्मफेयर बहुत पहले अपनी क्रेडिबिलिटी खो चुका है. जब करण जौहर, यश चोपड़ा, शाहरुख़ खान, फराह खान और फरहान अख्तर नेदखलअंदाजी देना शुरू कर दिया. फिल्मफेयर का सिर्फ एक ही एजेंडा है अवॉर्ड नाइट के दिन अगर आप स्टेज पर परफॉर्म करते हैं या होस्ट करते हैं तो ट्रॉफी आपकी.  

 

 

 

एक और यूजर ने लिखा, बिकाऊ फिल्मफेयर ने 'सुपर 30' और मिशन मंगल जैसी फिल्मों को इग्नोर कर दिया.  

यूजर्स रणवीर सिंह के गाने 'अपना टाइम आएगा' और तेरी मिट्टी' के गाने का कोलाज बनाकर फिल्मफेयर को बॉयकॉट करने की मांग कर रहे हैं. वहीं तेरी मिट्टी के गीतकार मनोज मुंतश‍िर ने अवॉर्ड शो को हमेशा के लिए अलविदा कह दिया है.
 

मनोज मुंतश‍िर ने ट्वीट करते हुए लिखा, 'अगर मैं पूरी जिंदगी भी कोश‍िश करूं तो 'तू कहती थी तेरा चांद हूं मैं और चांद हमेशा रहता है' से बेहतर और कोई लाइन नहीं लिख पाऊंगा. आप उन शब्दों को सम्मान देने में असमर्थ साबित हुए जिसने करोड़ों भारतीयों को रुलाया और अपने मातृभूमि की चिंता की. इसलिए आज मैं आपको अलविदा कहता हूं. मैं ऑफ‍िश‍ियली अनाउंस करता हूं कि मैं अपने आख‍िरी सांस तक किसी भी अवॉर्ड शो में नहीं जाऊंगा. अलविदा'  
 

Recommended

Loading...
Share