दक्षिण भारत की मशहूर गायक Sangeetha Sajith का 46 साल की उम्र में निधन, लंबी बीमारी के बाद ली अंतिम सांस

By  
on  

दक्षिण भारत की जानी-मानी प्लेबैक सिंगर संगीता साजिथ (Sangeetha Sajith) का निधन हो गया. 46 साल की उम्र में संगीता के निधन से संगीत जगत को गहरा सदमा लगा है. रविवार की सुबह साजिथ का तिरुवनंतपुरम में निधन हो गया.  वो लंबे अरसे से बीमार चल रही थी. उनके निधन से उनके फैंस काफी सदमे में हैं. वही साउथ इंडस्ट्री में भी शोक की लहर है.  

बता दें कि संगीता साजिथ ने कम उम्र में मलयालम, तमिल, कन्नड़ और तेलुगु भाषाओं में गाने गाए थे. उन्होंने दक्षिण भारतीय भाषाओं में करीब 200 से ज्यादा गाने गाए. बताया जा रहा है कि सिंगर को गुर्दे से संबंधित बीमारियों थीं और वो लंबे समय से अपनी इलाज करा रही थीं. 

संगीता ने साल 1998 की मलयालम फिल्म 'एन्नु स्वांथम जानकीकुट्टी' में अंबिली पूवेट्टम से अपने करियर की शुरुआत की थी. साउथ एक्टर पृथ्वीराज स्टारर कुरुथी का थीम सॉन्ग उनका आखिरी गाना था. 

संगीता के हिट गानों में ममूटी-स्टारर ‘पजहस्सिराजा’ में ‘ओडाथंडिल थलम कोट्टम’, रक्किलिपट्टू में धूम धूम धूम दूरेयेथो जैसे कई गाने शामिल हैं. लोग उनकी सादगी के कायल था. वो अपने सरल स्वभाव के लिए काफी फेमस थीं. 

संगीता ने मलयालम और तमिल में 100 से अधिक ऑडियो कैसेट भी गाए हैं. उन्हें कर्नाटक संगीतकार के रूप में भी जाना जाता है और उन्होंने विदेशों में सभी प्रमुख गायकों के साथ प्रदर्शन किया है. 

Recommended

Loading...
Share