नए तरीके से किया गया दिवंगत कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव का पोस्टमार्टम, अपनाया गया वर्चुअल तरीका

By  
on  

किंग ऑफ कॉमेडी के नाम से मशहूर राजू श्रीवास्तव के निधन का सभी को गहरा सदमा लगा है। गौरतलब है कि राजू श्रीवास्तव को दिल का दौरा पड़ने के बाद 10 अगस्त को दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया गया था जहां उन्हें 15 दिनों तक वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया था और जिसके बाद उन्हें होश आया था। लेकिन 1 सितंबर को उनकी तबियत बिगड़ने और तेज बुखार के चलते फिर से वेंटिलेटर सपोर्ट पर शिफ्ट कर दिया गया था। अब कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव हमारे बीच नहीं हैं। 21 सितंबर की सुबह उन्होंने अस्पताल में दुनिया को अलविदा कह दिया।  

ऐसे में दिवंगत कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव के परिवार ने मांग की कि उनका पोस्टमार्टम ना कराया जाए। हालांकि ये मुमकिन नहीं था क्योंकि राजू श्रीवास्तव को जब दिल्ली के AIIMS में एडमिट कराया गया था तो वो बेहोश थे। साथ ही ये एक पुलिस केस भी था। इसलिए उनकी शरीर का पोस्टमार्टम होना जरूरी था। लेकिन फिर राजू श्रीवास्तव के परिवार की मांग को ध्यान में रखते हुए AIIMS प्रशासन ने वर्चुअल पोस्टमार्टम करने का फैसला लिया। बता दें देश में यह पहली बार किसी शव के वर्चुअल पोस्टमार्टम का मामला है।

एमके फॉरेंसिक मेडिसिन विभाग के हेड डॉक्टर सुधीर गुप्ता ने वर्चुअल पोस्टमार्टम के बारे में बताते हुए कहा कि अपनों के निधन के बाद परिवार पहले से शोक में डूबा होता हैं। ऐसे में हमने एक रिसर्च में हमे पता चला कि 90 % से ज्यादा लोग पोस्टमार्टम कराए जाने के खिलाफ है। तो हमने यह रास्ता निकाला। वर्चुअल पोस्टमार्टम के दौरान डेड बॉडी पर डॉक्टर कोई कट या चीरा नहीं लगाते। इसमें बिना पार्थिव शरीर को छुए ही पूरी बॉडी स्कैन होती है और डॉक्टर की टीम बड़े स्क्रीन पर बैठकर छोटी-छोटी जानकारियों को बारी बारी से परखती है।

दिवंगत राजू श्रीवास्तव के पार्थिव शरीर की वर्चुअल पोस्टमार्टम प्रक्रिया होने के बाद उनका शव उनके परिवार को सौंपा जा चुका है।
 

Recommended

Loading...
Share