Ginny Weds Sunny Review: विक्रांत मैसी और यामी गौतम की केमिस्ट्री लगी शानदार, दिल को छू लेने के साथ एंटरटेनिंग है कहानी

By  
on  

फिल्म: गिन्नी वेड्स सनी 
कास्ट: विक्रांत मैसी, यामी गौतम, आयशा रज़ा मिश्रा, सुहैल नेय्यर, संचिता पुरी, मझेल व्यास, मनीका कुरूप अरोड़ा, राजीव गुप्ता, गुरप्रीत सैनी, ईशा तलवार
डायरेक्टर: पुनीत खन्ना 
ओटीटी: नेटफ्लिक्स
रेटिंग्स: 3.5 मून्स 
'शादी' के कांसेप्ट को बॉलीवुड से दूर ले जाना लगभग नामुमकिन है. लगभग 100 सालों से मतलब जब से इंडस्ट्री बनी है तब से, इंडस्ट्री में शादी के ऊपर कई यादगार फिल्में बन चुकी है. वही अब डायरेक्टर पुनीत खन्ना ने टैलेंटेड एक्टर्स विक्रांत मैसी और यामी गौतम के साथ मिलकर 'गिन्नी वेड्स सनी' लेकर आए हैं. 2 घंटे लंबी ये फिल्म आज नेटफ्लिक्स पर रिलीज हुई है. 

जैसा कि फिल्म के टाइटल 'गिन्नी वेड्स सनी' से ही पता चलता है कि, फिल्म गिन्नी जुनेजा (यामी गौतम) और सतनाम सेठी (विक्रांत मैसी) यानी ​​सनी के इर्द-गिर्द घूमती है. जैसा कि कहते हैं हम अपोजिट नेचर की तरफ अट्रेक्ट होते हैं, ऐसी ही कुछ कहानी है गिन्नी और सनी की, दोनों की पढ़ाई अलग-अलग स्कूलों से हुई है जहां की सोच अलग-अलग होती है. गिन्नी सच्चा प्यार पाने में यकीन करती है, जो उसकी मर्यादा और सम्मान का ध्यान रखें. वहीं सनी इस बात से दुखी है कि उसकी शादी नहीं हो रही है. दरअसल सनी का शादी का सपना बार-बार महिलाओं द्वारा रिजेक्ट करने से कुचल दिया जाता है. वहीं सनी की हताशा और पेन को देखते हुए, उसके पेरेंट्स शोभा जुनेजा से कंसल्ट करने का फैसला करते है. शोभा जुनेजा एक मैचमेकर हैं साथ ही गिन्नी की मां है. वहीं शोभा सनी को अपनी बेटी के करीब लाने के लिए कई ट्रिक्स का इस्तेमाल करती हैं.वहीं गिन्नी को यह जानकारी नहीं है कि उसकी माँ उसको सनी के क्लोज लाने की कोशिश कर रही है. 

Recommended Read: Khali Peeli Review: फुलटू मसाला फिल्‍म में ईशान खट्टर और अनन्‍या पांडे आपको कराते है अपने जीवन की मजेदार राइड

इस फिल्म में आपको कुछ भारतीय मैचमेकिंग वाली वाइब्स मिलने वाली हैं. जैसा की लाइफ में कभी सनी ने कभी भी सच्चे प्यार को फील नहीं किया था. वहीं गिन्नी पहले एक बेहद अमीर लड़के निशांत राठी (सुहैल नेय्यर) के साथ एक सीरियस रिलेशनशिप में थी, लेकिन बाद में ब्रेकअप के बाद दोनों अच्छे दोस्त बन जाते हैं. वही इसके बाद गिन्नी बेहद सिंपल और स्वीट सनी के साथ जुड़ जाती है तब धीरे-धीरे निशांत को एहसास होता है कि उसने गिन्नी को ज्यादा इंपॉर्टेंस नहीं दी. सनी गिन्नी को खुश करने के लिए किसी भी हद तक जा सकता है. सनी शोभा की हर इंस्ट्रक्शन को एक आज्ञाकारी स्टूडेंट की तरह मानता है. वही धीरे-धीरे सनी और गिन्नी के बीच करीबियां बढ़ जाती हैं. लेकिन क्या गिन्नी सनी से शादी करने पर विचार करेगी? निशांत का क्या होगा ? इस सब का जवाब गिन्नी वेड्स सनी में दिया जाएगा. 

डायरेक्टर पुनीत खन्ना जो पहले डॉन (2006), जोधा अकबर (2008) समेत कई फिल्मों में असिस्टेंट डायरेक्टर के रूप में काम कर चुके हैं, हमेशा अपने एक्टर्स का बेस्ट देने में जाने जाते हैं. बिना किसी झंझट के आप फिल्म की एंडिंग का अनुमान लगा लेते हैं. लेकिन हां पुनीत ने एक ऐसी फिल्म को बनाया है जो दिल को खुश करने के साथ एंटरटेनिंग और इंगेजिंग है. हालाँकि, फिल्म और बेहतर हो सकती थी अगर फिल्म की कहानी को और बेहतर बना दिया जाता. राइटर्स नवजोत गुलाटी और सुमित अरोड़ा की कलम से निकले हुए शब्द जादू की तरह है. विक्रांत के एक एक डायलॉग बहुत शानदार है. फिल्म में विक्रांत का मजाकिया अंदाज हंसाता है. राइडर्स की टीम ने कहानी में पंजाबिनेस का पंच जोड़ा है.

सनी सेठी के रूप में विक्रांत फिल्म का दिल हैं. वह एक ऐसे व्यक्ति के किरदार को बेहतरीन ढंग से निभाते हैं जो सही लड़की से शादी करने के लिए बेताब है. वह एक फिल्मी स्वीटहार्ट है, जो आपको अपनी कातिलाना मुस्कान से मंत्रमुग्ध कर देगा. फिल्म में विक्रांत के कैरेक्टर से प्यार हो जाता है. अगर विक्रांत फिल्म का दिल हैं तो यामी गिन्नी वेड्स सनी की दिल की धड़कन और आत्मा हैं. विक्रांत मैसी उर्फ सनी और यामी गौतम उर्फ गिन्नी के बीच की केमिस्ट्री काफी मजेदार दिख रही है. यामी कि यह सबसे शानदार फिल्मों में से एक है. यामी ने यंग, स्ट्रांग और स्वतंत्र लड़की का किरदार बेहतरीन ढंग से निभाया है. फिल्म में गिन्नी का एक डायलॉग है जिसमें वह कहती हैं कि, 'एक महिला का अपना आत्मसम्मान होता है और कोई भी पुरुष कभी भी अपने सुख और अहंकार के लिए इसका दुरुपयोग नहीं कर सकता है.' यामी का किरदार काफी स्ट्रांग है, लेकिन साथ ही वह इमोशनल भी हैं, वह एक ऐसी लड़की से शादी करना चाहती हैं जो उनके दिवंगत पिता की तरह उसकी देखभाल करे और उसको प्रायोरिटी दे. एक्ट्रेस की एक्टिंग धमाकेदार हैं. यामी की माँ के रूप में आयशा रज़ा मिश्रा काफी प्यारी लगी हैं. माजल व्यास, मेनका कुरुप अरोड़ा, राजीव गुप्ता हैं जो विक्रांत की बहन, माँ और पिता का किरदार में है. सुहैल नैय्यर ने निशांत के रूप में अच्छा काम करता है. ईशा तलवार का कैमियो काफी छोटा पर अच्छा है. 

सौंदर्य प्रोडक्शन के बैनर तले बनी इस फिल्म को विनोद बच्चन ने प्रोड्यूस किया है. सिनेमेटोग्राफर नूतन नागराज ने सादगी की झलकियां और एक ठेठ बड़े पंजाबी शादी की भव्यता को खूबसूरती से कैद किया. 'गिन्नी वेड्स सनी' आपको शाहरुख खान और अनुष्का शर्मा की फिल्म 'रब ने बना दी जोड़ी' की याद दिला सकती है. फिल्म में एक सरल, सीधी कहानी है. जो आपको निश्चित रूप से वेब पर आ रही अपराध थ्रिलर से कुछ अलग एक्सपीरियंस करने का मौका देगी. यामी और विक्रांत इस एंटरटेनिंग फिल्म में अच्छी तरह फिट हो जाते हैं.  
 

पीपिंगमून की तरफ से फिल्म 'गिन्नी वेड्स सनी' को 3.5 मून्स 

Recommended

Loading...
Share