'TMKOC' की बबिता जी उर्फ मुनमुन दत्ता की आपत्तिजनक टिप्पणी मामले में बढ़ी मुश्किलें, गैर जमानती धाराओं में दर्ज हुई FIR

By  
on  

टीवी सीरियल 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' फेम एक्ट्रेस मुनमुन दत्ता आज कल सुर्खियों में बनी हुई हैं. बता दें कि उनके सुर्ख़ियों में रहने की वजह कोई प्रोजेक्ट नहीं, बल्कि उनके द्वारा कुछ वक्त पहले एक वीडियो में जाति विशेष के बारे में टिप्पणी करना है. यह मामला अब इतना आगे बढ़ चूका है कि एक्ट्रेस के नाम से हरयाणा के हांसी में FIR दर्ज की जा चुकी है.

रिपोर्ट्स के अनुसार, पुलिस अधीक्षक, हांसी, नितिका गहलौत ने पुष्टि की कि मामला एससी और एसटी अधिनियम की धारा 3 (1) (यू) के तहत सिटी पुलिस स्टेशन में दर्ज किया गया था. पुलिस ने कहा कि मामला गुरुवार को दर्ज किया गया था और मामले की जांच की जा रही थी. राष्ट्रीय गठबंधन दलित मानवाधिकार के संयोजक रजत कल्सन द्वारा FIR 11 मई दर्ज किया गया था. उन्होंने वीडियो के साथ एक कॉम्पैक्ट डिस्क भी दी, जिसमे एक्ट्रेस ने कथित तौर पर आपत्तिजनक टिप्पणी की है. दरअसल, मुनमुन ने एक मेकअप वीडियो में कहा था कि वह अच्छी दिखना चाहती है और एक विशेष जाति का उल्लेख करते हुए वह कहती हैं कि वह उनकी तरह नहीं दिखना चाहती.

(यह भी पढ़ें: कॉमेडियन सुगंधा मिश्रा और संकेत भोसले के खिलाफ दर्ज हुई FIR, शादी में कोविड प्रोटोकॉल तोड़ने का लगा आरोप)

अपने वीडियो के लिए नेटिज़न्स द्वारा ट्रोल किये जाने के बाद एक्ट्रेस ने माफ़ी मांगते हुए पोस्ट शेयर कर लिखा था, "यह एक वीडियो के संदर्भ में हैं, जिसे मैंने कल पोस्ट किया था. इसमें मेरे द्वारा इस्तेमाल किए गए एक शब्द का गलत अर्थ लगाया गया है. यह अपमान, धमकी या किसी की भावानओं को चोट पहुंचाने के इरादे से कभी नहीं किया गया था. मेरी भाषा की सीमाओं के कारण, मुझे शब्द के अर्थ को लेकर सही जानकारी नहीं थी. एक बार जब मुझे इस शब्द के बारे में जानकारी दी गई तो मैंने तुरंत उसे वहां से निकाल दिया." 

आगे उन्होंने लिखा था, "मैं हर जाति, पंथ और लिंग के व्यक्ति का सम्मान करती हूं और हमारे देश और समाज के निर्माण में उनके योगदान को स्वीकार करती हूं. इस शब्द के उपयोग से जिस किसी का भी दिल दुखा है, मैं उससे माफी मांगती हूं और मुझे इसका वाकई अफसोस है."

हालांकि, निर्देशक नीरज घायवान ने ट्वीट करते हुए एक्ट्रेस को फटकार लगते हुए लिखा, "गलत व्याख्या की गई है? इसे चोट पहुंचाने के इरादे से कभी नहीं कहा? कोई अन्य व्याख्या नहीं है! आपने बी शब्द कहा और इसे कवर करने का कोई तरीका नहीं है. माफी मांगो और चुप रहो."

(Source: Twitter)

Recommended

Loading...
Share