क्या 'अनुपमा' के सेट पर हो रही है गुटबाजी, शो के लीड स्टार रूपाली गांगुली और सुधांशु पांडे के बीच हुई अनबन ?

By  
on  

स्टार प्लस के सुपरहिट शो 'अनुपमा' जब से शुरू हुआ है तभी से दर्शकों के दिलों और टीआरपी लिस्ट पर राज कर रहा है, पर लगता है कि शो की सफलता पर किसी की नजर लग है. ऐसा हम इसलिए कह रहे है क्योंकि खबर है की शो की लीड स्टारकास्ट सुधांशु पांडे यानी वनराज और रुपाली गांगुली यानी अनुपमा के बीच सब कुछ सही नहीं चल रहा है. दोनों के बीच किस बात को लेकर मनमुटाव हुआ है, यह किसी को पता नहीं है लेकिन सुनने में आ रहा है कि इनके बीच बातचीत बंद है. खबरे तो यहां तक है कि 'अनुपमा' के सेट पर 'कोल्ड वॉर और ग्रुपिज्म' चल रहा है.

एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि जहां सुधांशु पांडे, मदालसा शर्मा, पारस कलनावत और अनघा भोसले एक ग्रुप बन गए हैं. वहीं दूसरी तरफ रूपाली गांगुली, अल्पना बुच, आशीष मेहरोत्रा और मुस्कान बामने एक ग्रुप में शामिल हैं. वहीं फैंस लगातार रूपाली गांगुली और सुधांशु पांडे से सवाल पूछ रहे हैं कि इनके बीच लड़ाई क्यों हुई है? अदाकारा रूपाली गांगुली ने कुछ देर पहले ही एक सोशल मीडिया पोस्ट के माध्यम से इस बात का जवाब दिया है. इस पोस्ट में रूपाली गांगुली ने लिखा है कि उनके पास इन सब बातों के लिए वक्त नहीं है, जिसको जो समझना है, वो समझे. रूपाली गांगुली के ताजा पोस्ट के अनुसार, ‘आप लोगों को जो सुनाई दे रहा है, कृपया उस पर विश्वास कर लें. मेरे पास एक्सप्लेन करने का वक्त नहीं है.' 

TRP Rating Week 23: 'गुम है किसी के प्यार में' को पछाड़ फिर नंबर वन पर पहुंचा 'अनुपमा', 'सुपर डांसर 4' ने की लिस्ट में जबरदस्त वापसी

इतना ही नहीं, कुछ वक्त पहले जब शो का प्रोमो रिलीज हुआ तो सुधांशु पांडे ने इसे सोशल मीडिया पर शेयर किया है. इसमें कई कलाकारों को सुधांशु ने टैग किया है लेकिन रूपाली गांगुली को टैग लिस्ट से हटा दिया है.

वहीं फैंस बस यही दुआ कर रहे हैं कि सुधांशु और रूपाली के बीच सबकुछ ठीक हो जाए ताकि अनुपमा की टीआरपी पर इस लड़ाई का असर न पड़े. वहीं सीरियल की बात करें तो काव्या ने अब वनराज से शादी कर ली है और शाह परिवार के साथ रह रही है. अपनी नौकरी और घर के कामों को संभालना काव्या के लिए बहुत मुश्किल होता जा रहा था और इसलिए उनसे एक फुलटाइम नौकरानी को काम पर रखने का फैसला किया है. इस बीच, हताश वनराज ने अब एक कैफे में नौकरी कर ली है और जहां बा-बापूजी और अनुपमा ने वनराज के फैसले पर खुशी व्यक्त की. वहीं काव्या ने इसे 'छोटा काम' करार दिया है.
(Source: India.com/Instagram)

Recommended

Loading...
Share