अभिनव कोहली द्वारा दर्ज FIR में नवीनतम कार्यवाही के बाद श्वेता तिवारी को अदालत से मिली राहत

By  
on  

टीवी एक्ट्रेस श्वेता तिवारी और उनके पति अभिनव कोहली पिछले कुछ समय से सुर्खियों में हैं. हाल ही में जब श्वेता काम के लिए केपटाउन गई थीं, तब अभिनव कोहली के वीडियो इंटरनेट पर छाये हुए थे. कथित तौर पर, तिवारी के खिलाफ एक FIR दर्ज की गई थी कि वह अदालत के समक्ष लंबित कार्यवाही का उल्लंघन करके देश छोड़कर भाग गई हैं. ऐसे में आ रही नई रिपोर्ट के मुताबिक कोहली की ओर से दर्ज कराई गई FIR में एक्ट्रेस को कोर्ट से राहत मिली है.

एक सूत्र ने बताया कि श्वेता तिवारी के खिलाफ साल 2017 में किये गए अपराध के लिए 2021 में FIR दर्ज की गयी है. रिपोर्ट के अनुसार, सूत्र ने कहा, "यह सही है कि 2017 में किए गए कथित अपराध के लिए वर्ष 2021 में एक FIR दर्ज की गई है,जो अभिनव कोहली की एक एनओसी बनाने से संबंधित है जो उनके नाबालिग बेटे को UK की यात्रा के लिए वीजा के लिए आवेदन करने की अनुमति देता है. सूत्र ने आगे कहा है कि अभिनव के अनुसार, श्वेता द्वारा एनओसी पर उनके हस्ताक्षर जाली थे जो कि अजीब लगता है क्योंकि उसी वर्ष अभिनव ने आगे बढ़कर अपने बेटे को उसी देश की यात्रा करने के लिए वीजा हासिल करने के उद्देश्य से एक और एनओसी दिया था."

(श्वेता तिवारी ने बेटी पलक तिवारी के बॉलीवुड डेब्यू के बारे में की बात, कहा - 'मदद ना कर पाने पर करती हूं दुखी महसूस')

रिपोर्ट के अनुसार, सूत्र ने कहा है कि कोहली के हस्ताक्षर श्वेता द्वारा किये गए थे. रिपोर्ट में, सूत्र ने यह भी सवाल किया कि यदि कथित हस्ताक्षर 2017 में श्वेता द्वारा की गई थी, तो कोहली ने आवश्यक कार्रवाई करने के लिए 2021 तक इंतजार क्यों किया. आगे बढ़ते हुए, रिपोर्ट में सूत्र ने उल्लेख किया कि माननीय सत्र अदालत ने तिवारी को उनके खिलाफ दर्ज प्राथमिकी में अग्रिम जमानत दे दी है.

इस बीच पिछले कुछ समय से श्वेता तिवारी और अभिनव कोहली के बीच अनबन चल रही है. इस साल मई में, श्वेता ने अभिनव का एक वीडियो साझा किया था, जिसमें वह अपने बेटे रेयांश को एक्ट्रेस से छीनते हुए दिखाई दे रहे थे. बाद में एक्ट्रेस ने एक वीडियो साझा किया कि कैसे घटना के बाद छोटा बच्चा डर गया था. हालांकि, इसके बाद अपना पक्ष रखने के लिए अभिनव ने कई वीडियो शेयर किये थे.

Recommended

Loading...
Share