Suttabaazi review: रिनी सेन ने शॉर्ट फिल्म से किया अपना शानदार डेब्यू, अस्थिर परिवार के इर्द-गिर्द घूमती है ये कहानी

By  
on  

शॉर्ट फिल्म: सट्टेबाजी
कास्ट: रिनी सेन, राहुल वोहरा और कोमल छाबड़िया
निर्देशक: कबीर खुराना
अवधि: 13 मिनट 38 सेकंड
रेटिंग: 2.5 मून्स

सुष्मिता सेन की बड़ी बेटी रिनी सेन ने आखिरकार कबीर खुराना की शॉर्ट फिल्म 'सट्टेबाजी' के साथ शोबिज में अपनी शुरुआत कर ली है. राहुल वोहरा और कोमल छाबड़िया को-स्टारर यह फिल्म 13 मिनट लंबी है, जिसे डिज्नी + हॉटस्टार पर 10 जनवरी पर रिलीज हुई है.

(यह भी पढ़ें: Kaagaz Review: पंकज त्रिपाठी की शानदार एक्टिंग से भरपूर है सतीश कौशिक के निर्देशन में बनी यह फिल्म)

घर के चार दीवारों के बीच शूट की गयी फिल्म की कहानी कुमार फैमिली की है. दीया कुमार (रिनी) एक इंस्टाग्रामइन्फ्लुएंसर और गुप्त धूम्रपान करने वाली व्यक्ति है. वह अपने ऑनलाइन क्लास से ज्यादा फेसबुक पर मौजूद अपने फॉलोवर्स और फोटो शेयरिंग ऐप को लेकर चिंतित रहती है. 

दीया का परिवार एक अस्थिर परिवार है. उसकी मां एक भड़कीली हाउसवाइफ है, जो लॉकडाउन के बीच अपनी हिंदी ट्यूशन क्लासेज शुरू करना चाहती है. लेकिन दीया के पिता उसे बेवजह की बातें कहकर पीछे ढकेल देते हैं. हालांकि, कहानी में मोड़ तब आता है, जबकि दीया के माता-पिता को चुपके से उसकी धूम्रपान करने की आदत के बारे में पता चलता है. 

फिल्म एक्टर्स को अपनी जगह पर चमकने का मौका देती है. निर्देशक कबीर, जिन्होंने फिल्म भी लिखी है, ने अच्छा काम किया है. हालांकि, प्रॉब्लम फिल्म के छोटे से टाइम में है, जिसमे उन्होंने फिल्म के कॉन्सेप्ट को फिट करने की कोशिश की है. धूम्रपान के कारण कैंसर जैसे सामाजिक मुद्दे हैं, महिलाओं को अपने सपने, पीढ़ी के अंतर को आगे बढ़ाने की अनुमति दी जानी चाहिए और धूम्रपान वास्तव में एक माता-पिता और बच्चे के बीच अंतर को कैसे खत्म कर सकता है. फिल्म ना ही परेशान करती है और न ही प्रभावित करती है.

रिनी ने अपने किरदार दीया कुमार के साथ न्याय किया है. उन्हें देख यह कोई नहीं कह सकता कि यह उनका एक्टिंग डेब्यू है. हालांकि, आने वाले समय में रिनी को बड़े पर्दे पर देखना का इंतजार रहेगा. रिनी की परफॉरमेंस देख सुष्मिता को अपनी बेटी पर खूब गर्व होना चाहिए. राहुल ने अपने छोटे रोल में भी छाप छोड़ी है. फ़ोटोग्राफ़ी के निर्देशक शेख बिलगी संगीत निर्देशक सोराज बिश्नोई के साथ एक अच्छा काम किया है.

संक्षेप में, फिल्म देखने में शानदार है. 

पीपिंगमून 'सट्टेबाजी' को देता है 2.5 मून्स.

 

Recommended

Loading...
Share